प्रशासनिक व्यवस्था और भ्रष्टाचार: आरटीआई का प्रभाव

  • कुंजन आचार्य
  • देवेंद्र शर्मा

Abstract

सूचना वह शक्ति है जो शब्दाडंबर नहीं है बल्कि एक गूढ़ सत्य है और यह भी उतना ही सत्य है कि सूचना का अभाव एक गंभीर जिम्मेदारी हो सकती है। हम अपनी जनता को सही सूचना, उपयोगी सूचना दें और फिर हमें दिखाई देगा कि हमारी नीतियों तथा कार्यक्रमों को लागू करने में वे हमारे कितने बड़े सहायक हो जाएंगे। लेकिन जिस सूचना की उन्हें आवश्यकता है, उन्हें विकृत या गलत सूचना के स्त्रोतों पर निर्भर कर दें तो हम पाएंगे कि हमारी सर्वोत्तम योजनाएं किस तरह से असफलता के दलदल में फंसी रह जाएंगी। सूचना हमारी जनता का मूलभूत अधिकार है।
Published
2017-02-12